Showing posts with label Palia Kalan News. Show all posts
Showing posts with label Palia Kalan News. Show all posts

Thursday, 28 March 2019

बरखेड़ा, पलिया, मकसूदापुर चीनी मिल को नोटिस

March 28, 2019
चीनी मिलों पर शिकंजा कसने के लिए गन्ना मूल्य भुगतान शुरू हो गया है। सहकारी गन्ना समिति ने लशीदिया पलिया, मकसूदापुर, बरखेड़ा चीनी मिल को नोटिस जारी कर गन्ना मूल्य भुगतान करने का नोटिस जारी किया है। भुगतान को अधिसूचित करते हुए पूरनपुर चीनी मिल को भी नोटिस जारी किया जाएगा। गन्ना चीनी मिलों को 14 दिनों में खरीदे गए गन्ने का भुगतान करने का आदेश है। जो चीनी मिलें 14 दिन में गन्ने का मूल्य नहीं देती हैं, उन्हें ब्याज देना पड़ता है।
palia kalan sugar mil factory news
Pexels.com
पीलीभीत की एलएच चीनी मिल 31 जनवरी तक, पूरनपुर चीनी मिल 10 जनवरी तक, बरखेड़ा चीनी मिल 14 नवंबर तक, गुलरिया चीनी मिल 31 जनवरी तक, मकसूदपुर चीनी मिल 27 नवंबर तक, पलिया चीनी मिल 15 नवंबर तक खरीदे गए गन्ने के मूल्य का भुगतान कर चुकी है। -ऑपरेटिव गन्ना समिति के सचिव टीएन त्रिपाठी ने बताया कि भुगतान में पलिया, मकसूदपुर और बरखेड़ा चीनी मिल की हालत सबसे खराब है। गन्ना मूल्य भुगतान में फिसड्डी साबित हो रही तीनों चीनी मिलों पर नोटिस जारी किया गया है। गन्ना मूल्य का भुगतान जल्द करने की चेतावनी दी गई है। जल्द ही भुगतान नहीं मिलने पर आगामी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि पूरनपुर चीनी मिल की स्थिति भुगतान में ठीक नहीं है। पूरनपुर चीनी मिल से शीघ्र भुगतान न होने पर पूरनपुर को भी अधिसूचना जारी की जाएगी।

Wednesday, 27 March 2019

बढ़ा मच्छरों का प्रकोप मौसम परिवर्तन से, नहीं हुआ दवा का छिड़काव

March 27, 2019
लखीमपुर: मच्छरों के बदलने से मच्छरों की संख्या तेजी से बढ़ी है। गर्मी का मौसम शुरू होते ही, मच्छरों के प्रकोप ने लोगों के लिए खुले में बैठना बहुत मुश्किल बना दिया है, लेकिन इसके बावजूद नगर पालिका परिषद ने अभी तक गोलीबारी नहीं की है। मच्छरों की संख्या बढ़ने से सभी बीमारियों के फैलने की भी संभावना है।
Lakhimpur news
News src www.jagran.com
इन मच्छरों के कारण, रात में लोगों का रात का सोना भी मुश्किल है। यही नहीं, रोडवेज परिसर में मच्छरों के प्रकोप से दूर खड़े होना भी मुश्किल है, जो लोग सुबह की सड़क पर टहलते हैं। शहर के सभी लोगों का कहना है कि गंदगी के कारण मच्छरों का प्रकोप बढ़ रहा है और पालिका परिषद ने अभी तक दवा का छिड़काव नहीं किया है। मच्छरों के काटने से सभी जानलेवा बीमारियां होने की संभावना है। इस बारे में पालिका अध्यक्ष संदीप मेहरोत्रा का कहना है कि जल्द ही शहर की सभी सड़कों पर दवा का छिड़काव किया जाएगा।

हादसे में पति-पत्नी की मौत, बहू की हालत गंभीर

March 27, 2019
मंगलवार की रात पलिया सम्पूर्णानगर रोड पर पकरिया मोड़ के पास सामने से आ रहे तेज रफ्तार चार पहिया वाहन ने बाइक को जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में बाइक चालक और उसकी पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि सवार बहू गंभीर रूप से घायल हो गयी। सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने घायल महिला को तुरंत सीएचसी में भर्ती कराया।
Palia kalan news
News src www.livehindustan.com
सम्पूर्णा नगर निवासी मथुरा प्रसाद का पुत्र प्रेम तिवारी (60) अपनी पत्नी लक्ष्मी तिवारी (55) और पुत्रवधू सिम्मी (22) के साथ शाम को अपने घर से बाइक से अपने घर से सम्पूर्णानगर लौट रहा था। ऐसा कहा जाता है कि वह पकरिया डैम के पास पहुंचे ही थे कि सामने से आ रहे तेज रफ्तार चार पहिया वाहन ने उनकी बाइक को जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में प्रेम तिवारी और उनकी पत्नी लक्ष्मी की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद चार पहिया वाहन सड़क किनारे पलट गया और पलट गया। बताया जाता है कि चालक मौके से फरार हो गया। दुर्घटना की सूचना पर कोतवाल संजय त्यागी और चौकी इंचार्ज अरविंद राय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। पुलिस ने मृतक के परिजनों को सूचना दे दी है। दो लोगों की मौत से परिवार में कोहराम मच गया।

Saturday, 2 February 2019

महिलाओं को फावड़ा मारकर किया बुरी तरह से घायल | News Palia Kalan

February 02, 2019
पलिया कलां लखीमपुर : कोतवाली पलिया कलां क्षेत्र के ग्राम छेदनीपुरवा में भूमि पर खूंटा गाड़ने को लेकर हुए विवाद में एक पक्ष ने महिलाओं के सिर पर फावड़ा मार कर लहूलुहान कर दिया जिससे उन्हें गंभीर चोट आई हैं। महिलाओं को जिला अस्पताल ले जाया गया है। मामले की तहरीर पुलिस को दे दी गई है।
Palia Kalan News
Subhashini and her family

गांव निवासी महिला सुभाषिनी पत्नी स्व0 परेशराम ने पुलिस को दी गई तहरीर में कहा है कि वह अपने घर पर घरेलु कार्यों में व्यस्त थीं। उस वक्त घर महिलाओं के सिवा कोई नहीं था।  इस दौरान विपक्षियों ने अवैध रूप से विवादित भूमि में खूंटा गाड़ने का प्रयास किया।

जब उन्हें मना किया गया तो उन लोगों ने अपशब्द भाषा का प्रयोग करते हुए फावड़े व लाठी से उनपे हमला कर दिया। जिससे उसका व उसके परिवार वालों का सिर फट गया व शिल्पी पत्नी छोटे का हाथ भी फ्रैक्चर हो गया। बाद में महिलाओं को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।