Monday, 20 May 2019

आएगा तो मोदी ही | Exit Poll of the Polls: हर पोल की एक ही कहानी | भारत में bjp की स्थिति

Exit Poll of the Polls:

जनता की जानकारी के अनुसार, NDA को 305, UPA को 124, SP-BSP को 26 और अन्य को 87 सीटें मिल सकती हैं। सी वोटर के एग्जिट पोल के मुताबिक, लोकसभा की कुल 543 सीटों में एनडीए को 287, यूपीए को 128, एसपी-बीएसपी को 40 और अन्य को 87 सीटें मिल सकती हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 के अधिकांश एग्जिट पोल के अनुसार, भाजपा के नेतृत्व वाला एनडीए एक बार फिर बहुमत के साथ केंद्र में सरकार बनाएगी। लोकसभा चुनाव के लिए 11 अप्रैल से 19 मई तक 7 चरणों में मतदान हुआ। वोटों की गिनती के साथ-साथ 23 मई को घोषित नतीजे। लोकसभा में 543 सीटें हैं और बहुमत के लिए किसी भी पार्टी या गठबंधन को कम से कम 272 सीटों की जरूरत है। इंडिया टुडे एक्सिस माई इंडिया के मुताबिक, बीजेपी को 542 सीटों में 339-365, कांग्रेस को 77-108, सपा-बसपा को 10-16 और अन्य को 69-95 सीटों का फायदा होगा।

Exit Poll of the Polls: There is only one story of every poll
aajtak.in
जनता की जानकारी के अनुसार, NDA को 305, UPA को 124, SP-BSP को 26 और अन्य को 87 सीटें मिल सकती हैं। सी-वोटर के एग्जिट पोल के मुताबिक, लोकसभा की कुल 543 सीटों में एनडीए को 287, यूपीए को 128, एसपी-बीएसपी को 40 और अन्य को 87 सीटें मिल सकती हैं। न्यूज़ नेशन ने NDA को 286, UPA को 122 और अन्य को 134 सीटें दी हैं। पोल एजेंसी वीएमएमआर के अनुसार, एनडीए को 306, यूपीए को 132, एसपी-बीएसपी को 20 और अन्य के खाते में 84 सीटें मिल सकती हैं। सर्वेक्षण एजेंसी नेक्सा ने अपने एग्जिट पोल में कहा है कि एनडीए को 242, यूपीए को 164 और अन्य को 136 सीटें मिल सकती हैं। पोल स्ट्रेट के अनुसार, एनडीए को 298, यूपीए को 118, एसपी-बीएसपी को 40 और अन्य को 86 सीटें मिल सकती हैं।

एग्जिट पोल 2019 LIVE: मोदी लहर 2014 की तुलना में जबरदस्त है, विपक्ष पूरी तरह से ध्वस्त!


न्यूज 18 पर एग्जिट पोल के मुताबिक, एनडीए को 292 से 312 सीटें मिलेंगी, जबकि यूपीए को 62 से 72 सीटें मिलने की संभावना है। कई एग्जिट पोल के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन भाजपा में बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो सकता है। 2014 के चुनावों में, एनडीए को राज्य की 80 लोकसभा सीटों में से 73 सीटें मिलीं। कुछ एग्जिट पोल का मानना ​​है कि इस बार बीजेपी गठबंधन को 40 सीटें नहीं मिलेंगी। एबीपी नीलसन के सर्वेक्षण के अनुसार, भाजपा को 277 सीटें, कांग्रेस को 130 और अन्य को 135 सीटें मिल सकती हैं।


इंडिया टुडे एक्सिस माय इंडिया सर्वे क्या कहता है

आजतक एक्सिस माई इंडिया का एग्जिट पोल जारी कर दिया गया है। सबसे पहले, यह मध्य प्रदेश के बारे में बताया गया है। सर्वेक्षण के अनुसार, मध्य प्रदेश में भाजपा की 29 सीटों में से 26 से 28 सीटें मिल सकती हैं। एक से तीन सीटें कांग्रेस के पाले में जा सकती हैं। एग्जिट पोल के मुताबिक, मध्य प्रदेश में कांग्रेस और यूपीए को बड़ा झटका लग रहा है। इंडिया टुडे एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक, 13 राज्यों में 134 राज्यों में से एनडीए को 163 से 186 सीटें मिलती दिख रही हैं।

छत्तीसगढ़ में भी मध्य प्रदेश जैसी हालत है। यहां बीजेपी को 7-8 और कांग्रेस को 3-4 सीटें मिल सकती हैं। यहां कुल 11 सीटें हैं। हाल ही में छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में जहां कांग्रेस ने भाजपा का सूपड़ा साफ कर दिया था और भाजपा की 15 साल की सरकार को बाहर कर दिया था।

राजस्थान में भी बीजेपी बहुत अच्छी दिख रही है। एग्जिट पोल के मुताबिक कुल 25 सीटें हैं, जिसमें बीजेपी 23-25 ​​सीटें जीत सकती है। जबकि कांग्रेस के हाथ एक भी सीट नहीं लगती। एनडीए राजस्थान में क्लीन स्वीप करता दिख रहा है। यहां तक ​​कि हाल ही में विधानसभा चुनाव हुए, जिसमें कांग्रेस ने सरकार बनाई थी और वसुंधरा राजे की भाजपा सरकार सत्ता से बाहर थी। अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बने इस बार उनके बेटे वैभव गहलोत भी चुनाव लड़ रहे हैं, लेकिन एग्जिट पोल के मुताबिक वह भी हार रहे हैं।

एग्जिट पोल: यूपी में फॉर्मूला फेल, NDA को मिलेगी 62 से 68 सीटें


महाराष्ट्र में अभी भी भाजपा-शिवसेना की लहर दिख रही है। आजतक एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक, महाराष्ट्र में बीजेपी को 38-42 सीटें मिलती दिख रही हैं, जबकि कांग्रेस को 6-10 सीटें मिल सकती हैं। कुल 48 लोकसभा सीटें हैं। गोवा में दो एग्जिट पोल बीजेपी को जाने वाले हैं। कांग्रेस को खाली हाथ छोड़ा जा सकता है। यहां 2 लोकसभा सीटें हैं। गुजरात की यही स्थिति है जहाँ 25-26 सीटें भाजपा के पाले में जा सकती हैं। 0-1 सीट कांग्रेस के पास जाती है। आजतक एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के अनुसार, नरेंद्र मोदी का जादू गुजरात में दिखाई देता है।

एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक, भाजपा एकमात्र सीट चंडीगढ़ आ सकती है, जबकि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी का खाता नहीं खुलेगा। दादर और नगर हवेली में एक सीट है, जो भाजपा की जीत को देख रही है। कांग्रेस या अन्य खाता भी नहीं खुलेगा। दमन दीव में भी ऐसी ही स्थिति है जहां भाजपा को केवल एक सीट पर कब्जा मिल सकता है। हिमाचल की 4 सीटों पर बीजेपी का कब्जा हो सकता है जबकि कांग्रेस और अन्य के खाते में शून्य सीटें हैं। लक्षद्वीप में एक सीट है जिसे कांग्रेस जीत सकती है।

मणिपुर में भाजपा दोनों सीटें जीत सकती है जबकि कांग्रेस और अन्य अपना खाता भी नहीं खोलेंगे। मेघालय में भाजपा की 1-2 सीट और अन्य में 1 सीट जा सकती है। मिजोरम की एक सीट कांग्रेस पार्टी के पास जा सकती है। नागालैंड में कांग्रेस एक सीट जीत सकती है। पुदुचेरी की एक सीट कांग्रेस जीत सकती है। सिक्किम की एक भी सीट न तो कांग्रेस जीत पाएगी और न ही भाजपा, यहाँ की सीट दूसरे के खाते में जाती दिख रही है। त्रिपुरा में 0-2 सीटें जा सकती हैं, जबकि किसी अन्य पार्टी का खाता नहीं खुला है। सबसे चौंकाने वाला परिणाम पश्चिम बंगाल से आ सकता है। यहां ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस पार्टी 19-22, भाजपा को 19-23 और अन्य 0-1 सीटें मिल सकती हैं।

राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात और महाराष्ट्र में भाजपा की लहर है। केरल से आजतक एक्सिस माय इंडिया का सर्वे आया है। इसमें कहा गया है कि यदि भाजपा को 1 सीट मिलने की उम्मीद है, तो कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूडीएफ को 15-16 सीटें मिल सकती हैं। वाम समर्थित एलडीएफ को 3-5 सीटें मिल सकती हैं। वायनाड से चुनाव लड़ रहे राहुल गांधी का असर दिख रहा है।

EXIT POLL: क्लीन स्वीप, बिहार में एनडीए, बुझी लालटेन, बिहार


एग्जिट पोल के मुताबिक, कर्नाटक में कर्नाटक को 212 सीटें मिल सकती हैं। यहां यूपीए के खाते में 3-6 सीटें जा रही हैं। कर्नाटक में कुल 28 सीटें हैं। दूसरे के खाते में 1 सीट आ सकती है। कांग्रेस-जेडीएस की सरकार है। पिछले विधानसभा चुनावों में भाजपा बहुत कम अंतर से हारी थी।

आंध्र प्रदेश से बहुत सारे आश्चर्यजनक परिणाम आ सकते हैं। चंद्रबाबू नायडू तीसरे मोर्चे की सरकार के लिए बहुत मेहनत कर रहे हैं, लेकिन इंडिया टुडे एक्सिस माई इंडिया के सर्वेक्षण में, वह बहुत हिलते हुए दिख रहे हैं। यहां से वाईएसआर कांग्रेस के नेता जगन मोहन रेड्डी एक महान हस्ती के रूप में उभर रहे हैं। यहां बीजेपी और कांग्रेस का खाता नहीं खुल रहा है, जबकि नायडू की टीडीपी सिर्फ 4-6 सीटें और जगनमोहन रेड्डी की वाईएसआर कांग्रेस को 18-20 सीटें मिलती दिख रही हैं। दूसरे के खाते में 1 सीट आ सकती है।

तेलंगाना से बीजेपी को अच्छी खबर मिल सकती है क्योंकि पार्टी के पास यहां जनाधार नहीं था, लेकिन उसे इस चुनाव में 1-3 सीटें मिल सकती हैं, जबकि कांग्रेस के खाते में भी 1-3 सीटें आ सकती हैं। के चंद्रशेखर राव की पार्टी टीआरएस एक बड़ी पार्टी के रूप में उभर रही है, जिसे कुल 10-12 सीटें मिल सकती हैं। असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एमआईएम को 0-1 सीटें मिलने की संभावना है। यह सर्वे इंडिया टुडे एक्सिस माय इंडिया द्वारा किया गया है।

एग्जिट पोल के मुताबिक, तमिलनाडु में कांग्रेस भारी बढ़त दिखा रही है। कुल 39 सीटों में, कांग्रेस में 34-38 सीटें और एनडीए के खाते में 4 सीटें हैं।

इंडिया टुडे एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के अनुसार, आपके पास दिल्ली से आदमी पार्टी और कांग्रेस के लिए अच्छी खबर नहीं है। इन दोनों दलों के बीच गठबंधन चल रहा था। नतीजतन, बीजेपी कुल 7 में 6-7 सीटें जीतती दिख रही है, जबकि कांग्रेस के खाते में 0-1 सीटें हैं। अरविंद केजरीवाल की पार्टी, आप यहां खाता नहीं खोल सकते।

दिल्ली से सटे पंजाब में भी आम आदमी पार्टी में घमासान मचा हुआ है। कुल 13 सीटें हैं जिनमें एनडीए को 3-5 सीटें, कांग्रेस को 8-9 और अन्य को 0-1 सीटें मिल रही हैं। पंजाब एक ऐसा राज्य है जहां से आपको बहुत उम्मीदें थीं लेकिन अमरिंदर सिंह का जादू यहां चल रहा है। यहां सबसे बड़ा नुकसान अरविंद केजरीवाल की पार्टी आपको दिख रहा है। भाजपा और शिरोमणि अकाली दल भी बहुत अच्छे नहीं दिखे।

एग्जिट पोल के अनुमान हरियाणा से सामने आए हैं। 10 में से 10 सीटों पर भाजपा को 8-10 सीटें, कांग्रेस को 0-2 और अन्य को शून्य सीटों के खाते में जाती दिख रही है। हरियाणा में भाजपा के जबरदस्त प्रदर्शन के संकेत हैं। यहां मनोहर लाल खट्टर मुख्यमंत्री हैं।

इंडिया टुडे एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक, भाजपा उत्तराखंड के गोडाउन में बहुत अच्छा कर रही है। सर्वे के मुताबिक बीजेपी यहां क्लीन स्वीप की स्थिति में है। कुल 5 में, यह पैच हो रहा है, जबकि कांग्रेस और बसपा का खाता नहीं खुल रहा है।

इंडिया टुडे एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की पार्टी शून्य की ओर बढ़ती दिख रही है। सर्वे में कहा गया है कि जहां भाजपा को 2-3 सीटें मिल सकती हैं, वहीं कांग्रेस को 0-1 और उमर अब्दुल्ला को 2-3 सीटें मिल सकती हैं। यहां, बीजेपी 2014 की तरह दिख रही है, जबकि महबूबा मुफ्ती की पार्टी साफ दिख रही है।

इंडिया टुडे एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के नतीजे बिहार में काफी चौंकाने वाले हैं। कुल 40 सीटों में बीजेपी को एनडीए में 38-40 सीटें मिलती दिख रही हैं, जबकि कांग्रेस गठबंधन को 0-2 सीटें मिल सकती हैं। यहां राजद की हालत बहुत खराब दिख रही है। लालू यादव की पार्टी आरजेडी को 0-1 सीटें मिल सकती हैं। राजद और कांग्रेस में गठबंधन है।

एग्जिट पोल में ओडिशा पोल का एक सर्वे सामने आया है। यहां कुल 21 सीटें हैं। यहां भाजपा 15-19 सीटें जीत रही है, जबकि कांग्रेस को 0-1 सीटें मिल सकती हैं और नवीन पटनायक की पार्टी बीजेडी को 2-8 सीटें मिल सकती हैं। सबसे चौंकाने वाला परिणाम बीजेडी के साथ आ रहा है। एक तरह से उनकी पार्टी पूरी तरह से हारती दिख रही है।

झारखंड में किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार, भाजपा 12 से 14 सीटें जीत सकती है जबकि कांग्रेस को 0-2 सीटें मिल सकती हैं। यहां कुल 14 सीटें हैं। बीजेपी सभी सीटों को अपने कब्जे में लेती दिख रही है, जबकि कांग्रेस की अभिव्यक्ति स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है। ऐसा ही नजारा असम में देखने को मिला। 14 सीटों में 12-14 सीटें बीजेपी के खाते में जाती दिख रही हैं।

News src aajtak.in

Keywords :

भारत में आगामी चुनाव

भारत में bjp की स्थिति

भारत में bjp का भविष्य

भारतीय चुनाव

भारत का चुनाव परिणाम

2019 में मोदी हारेंगे

क्या मोदी 2019 में सत्ता में आएंगे

2019 का चुनाव जीतेंगे कांग्रेस

No comments:

Post a Comment